DON 3

Story Section No. 1 

don3 shahrukh khan priyanka chopra
Story-of-DON3

      डॉन ने नोटों के प्लेट्स से नोटों का बिसनेस समीर के साथ मिलकर शुरू कर दिया. उन प्लेट्स से जो नौटे बनेगी उन नोटों का सौदा इंडिया के बड़े नेताओं के साथ करना चाहता था वह भी बहोत कम दामो में क्यों के जो ब्लैक मनी नेताओं की होती हैं वह दुसरे देशों की करंसी में रखते थे या फिर स्विस बैंक में और तो और कोई कोई अपने भरोसे बंद रिश्तेदार, या नौकर के यंहा रखते थे. डॉन और समीर कानून की नज़रों में अब बेकसूर थे और डॉन मोना की नज़रों में फिर से दोबारा गुन्हेगार नहीं बनना चाहता था इस लिए डॉन ने समीर को एक झूठे केस में फंसा कर समीर को कुछ महीने की सजा कर वादी. जेल में समीर को देखकर वरदान समीर से मिलता है यह सोंच कर के मै इस का सहारा लेकर डॉन को मारकर अपना बदला ले सकता हूँ. 

वरदान और समीर के बिच बहोत से बातें होती हैं. 

समीर :- अब मेरी जिंदगी का एक ही मकसद है डॉन की मौत. 

वरदान :- अगर तुम मेरा साथ दोगे तो हम सब मिलकर डॉन को ख़त्म कर सकते हैं. 

समीर :- हम सब का मतलब हम दोनों के अलावा और दुसरे कोई हैं क्या ?

     वरदान समीर को उन सब के नाम बताता हैं जिन्हें डॉन ने फसाकर जील भेज दिया हैं. १.फैबियन कुल, २. जिमी गूगल और उस के सारे साथी जिन्हें डॉन की वजह से जेल हुई हैं. 

समीर यह सारी बातें डॉन तक पहुंचाता हैं. 

समीर :- तुम्हारा अंदाजा सही था वरदान और बाकी सारे एक साथ मिलकर तुम्हारा शिकार करना चाहते हैं. 

डॉन :- मुझे पता है क्यों के शत्रंच के प्यादों को तीन ही चाले आती हैं. 

    वरदान बाहर निकलने का प्लान समीर से पूछता है समीर उन को एक प्लान बताता हैं जो डॉन ने समीर से कहा था. 

समीर :- तो प्लान यह है के अगले हफ्ते को यहां इस जेल में स्पोर्ट्स डे का प्रोग्राम है उस दिन ही हमें यंहा से बहार निकलना है. वरदान तुम मुझे इस जेल के कंट्रोल रूम तक पहुंचाओ बाकि सब मै संभाल लूँगा. कल हमारे लिय स्पोर्ट ड्रेस आएंगे. 

     अगले दिन डॉन एक लड़की को भेजकर समीर तक कपडे और ड्रेस पहुंचा देता हैं. समीर को कंट्रोल रूम की साफ सफाई करने का काम वरदान ने दिला दिया. समीर ने रूम की सफाई करते हुवे अपना एक सॉफ्टवेर उस कंप्यूटर में डाउनलोड कर दिया. जिस दिन वह सारे जेल से बाहर निकल रहे होंगे उस वक़्त उस सॉफ्टवेर की मदत से जेल के सारे कंप्यूटर को हैक करने में मदत मिले. 

     स्पोर्ट डे के दिन यह सारे स्पोर्ट के ड्रेस पहन कर और अलग तरह का मेक-अप कर के बाहर निकल जाते हैं. इनके सेल में दुसरे कैदी को बेहोश करके अपने कपडे उसे पहनाकर अपनी जगह उन को सुलाकर यह बाहर निकल गए. यह जब सारे काम कर रहे थे तब समीर अपने सॉफ्टवेर की मदत से कंप्यूटर को बार बार हैक कर रहा था. जिस की वजह से यह कैमरे में नहीं आ रहे थे. स्पोर्ट के लिय कुछ बहार से लोग आए हुवे थे उनकी जगह पर यह सारे एक वैन में बैठकर बाहर निकल ने में कामियाब हो गए. वैन का ड्राईवर और कोई नहीं बलके डॉन था मगर यह बात का डॉन ने किसी को पता नहीं चलने दिया. 

   अगले दिन सुबह वरदान सबसे कहता हैं. यंहा तक तो सब ठीक रहा लेकिन डॉन को किस तरह से मिटाना हैं इस का कोई प्लान है क्या किसी के पास ?. 

समीर :- किसी के पास कुछ प्लान है तो कहिय. 

     कुछ देर तक सब खामोश रहते हैं, फिर से दोबारा समीर ने पूछा. किसी के पास कोई भी प्लान नहीं था यहां तक के समीर के पास भी नहीं था समीर को डॉन ने एक प्लान बता कर भेजा था. 

समीर :- मेरे पास एक प्लान है अगर आपकी मर्जी हो तो वह मै बताऊ. 

समीर :- डॉन के पास अभी भी वह प्लेट्स है और उस प्लेट्स से वह दुब्लिकेट नोट बनाकर मार्केट में चलाने वाला हैं. 

वरदान :- तो इस से हमारा क्या फायेदा होगा. 

समीर :- हमारा फायेदा, वह कहावत तो आपने सुनी होगी ना के एक तीर से दो शिकार, ठीक उसी तरह से हमें भी काम करना है. डॉन से हम सब मिलकर माफ़ी मांगेंगे और उसके साथ काम करना शुरू कर देंगे और उसके काम में अपनी पूरी ताकत लगा देंगे जैसा के फैबियान आप नोटा बनाने की मशीन का इंतेजाम करेंगे और बाकी हम सब उन नोटों के खरीदारों को वह नोटा लेने के लिय राजी करेंगे. यह सब कामों में वरदान तुम कही भी सामने नहीं आओगे तुम हमारे साथ हो यह बात डॉन को नहीं पता चलनी चाहिय नहीं तो वह हम पर भरोसा नहीं करेगा. 

वरदान :- वैसे भी डॉन किसी पर भरोसा नहीं करता. 

समीर :- इसी लिय तो वह डॉन हैं, अब उसे कैसे मात देनी है यह सोंचो अगर मेरा प्लान आपको नहीं पसंद तो आप ही दूसरा प्लान बताए. 

    सब राजी हो गए समीर की बात पर उसके प्लान को ही अपनाते हैं. समीर और जिमी गूगल, फैबियान यह सारे डॉन से मिलते है और उन्हें अपने साथ काम में शामिल करे यह बात डॉन के सामने रखते हैं. 

डॉन :- आज कल यह क्या हो रहा है, जो खुद को विशाल समंदर समझ ते थे मगर आज एक प्यासे के पास आ गए हैं. पिछली बार की तरह मुझसे बगावत की तो अब की बार इस तरह से जेल में डालूंगा के बाहर मरने के बाद ही आओगे. 
don3 shahrukh khan priyanka chopra
Story-of-DON3

       डॉन इन के साथ मिलकर बहोत से जाली नौट बनाता है और उन नौटो का सौदा कुछ बड़े नेताओं से करता हैं. डॉन अपना कम करते हुए मोना को भी हासिल करना चाहता था इस लिए डॉन ने अपने प्लान का मोना को भी हिस्सा बना लिया था. डॉन अपने नौटो के बदले इंडिया के नौटो का सौदा करता है और पहले ही ले लेता है फिर इन सब को एक प्लान करके मोना के हाथों से फिर से दोबारा गिरफ्तार करवा दिया. डॉन ने इन सब को इस लिए बाहर लाया था क्यों के फैबियान के पास नौटा बनाने की मशीन और उसका फ़ॉर्मूला था, जिमी गूगल का नेटवर्क हर तरफ फैला हुवा था जिस की वजह से नौटो के खरीदार मिलने में आसानी हो गई. डॉन जिमी गूगल का कम खुद कर सकता था लेकिन डॉन के नाम से तो सारे डरते है और उसे कहीं पर भी अपना नाम नहीं आने देना था इस लिए डॉन ने इन सब को बाहर लाया और फिर से दोबारा जेल में डाल दिया क्यों के डॉन को समझ ना मुश्किल ही नहीं बलके नामुमकिन हैं.

कुछ डायलॉग :-

१. यह आज कल क्या हो रहा है जो खुद को समंदर कहते थे वह समंदर ही प्यासे के पास आ गया हैं. 

२. क्यों के डॉन जब चाहे जिसे चाहे कुछ भी करवा सकता हैं. 

३. डॉन और वक़्त को आज तक कोई भी रोख नहीं सका हैं. 

४. डॉन के प्लान से पोलिस तो क्या हर इंसान भी चौक जाता हैं. 

५. डॉन के लिए कोई भी काम नामुमकिन नहीं है इस लिए डॉन को पकड़ना सब के लिए नामुमकिन हैं. 

६. डॉन और आग से कभी उलझना मत क्यों के किसी को भी यह दोनों राख कर देते हैं. 

७. डॉन के बारें में उसके दुश्मनों से पूछो उनकी बर्बादी ही डॉन की शान बयान करेगी. 

८. डॉन से मत टकराना क्यों के तुम समंदर हो, तो उसके सामने चुल्लू भर में ही सीमंट जाओगे.

No comments

Powered by Blogger.